आगरा लखनऊ-एक्सप्रेसवे पर दर्दनाक हादसा, रोडवेज बस से कुचलकर 6 छात्रों समेत 7 लोगों की मौत

0
37

आगरा लखनऊ-एक्सप्रेसवे पर बेहद दर्दनाक हादसा हुआ है. रविवार रात 12 छात्र एक रोडवेज बस की चपेट में आ गए, जिसमें से छह छात्र और एक शिक्षक की मौत हो गई है. तीन छात्रों की हालत भी नाजुक बनी हुई है. यह हादसा कन्नौज के पास हुआ है. घटना के बाद से आरोपी रोडवेज बस चालक मौके से गाड़ी लेकर फरार हो गया है.

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस वे पर सोमवार तड़के हुए दर्दनाक सड़क हादसे पर दुख व्यक्त किया. उन्होंने मृतकों के परिजनों को 2-2 लाख रूपए की आर्थिक सहायता और घायलों को 50 हजार रुपए देने की घोषणा की है.

बताया जा रहा है कि संतकबीर नगर से बीटीसी के छात्रों से भरी टूर पर हरिद्वार जा रहे थे. डीजल खत्म होने पर छात्र दूसरी टूर बस गाड़ी से डीजल निकालकर डाल रहे थे. तभी सामने से आ रही तेज रफ्तार लाल रंग की रोडवेज बस छात्रों को रौंदते हुए चली गई. पुलिस के मुताबिक आगरा लखनऊ एक्सप्रेसवे कन्नौज के थाना तालग्राम 179/900 नंबर की घटना है.

यह भी पढ़े  आठ तक भरें मैट्रिक का परीक्षा फॉर्म

हादसे में मारे गए लोगों पहचान हो गई है. मरने वालों में-:
1. महेश कुमार गुप्ता पुत्र कृष्णमुरारी गुप्ता मेहदावल रोड मोतीनगर खलीलाबाद
2. अभय प्रताप सिंह पुत्र देवेन्द्र कुमार सिंह थवाई पार खलीलाबाद.
3. मिथिलेश कुमार पुत्र राजेन्द्र प्रसाद नकटा,घनघटा संतकबीरनगर
4. विशाल कुमार पुत्र प्रकाश चन्द्र सहजनवा गोरखपुर.
5. जितेंद्र कुमार यादव पुत्र यशवंत यादव चकिया भीटी रावत, गोरखपुर
6. सतीश पुत्र रामफेर जगदीशपुर शुकलियान संतकबीरनगर.

घायलों में चिन्ताहरण पुत्र राजाराम (बस का परिचालक), प्रमोद भारती पुत्र उदयराज, बस ड्राइवर राधेश्याम और बस ड्राइवर बलराम तिवारी हैं.

मृतकों के परिजनों को मिलेगा 2-2 लाख रुपए का मुआवजा
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रभा देवी विद्यालय, संत कबीरनगर के 6 बीटीसी छात्रों और एक शिक्षक की जनपद कन्नौज में एक  दुर्घटना में मृत्यु पर गहरा शोक व्यक्त किया है. उन्होंने हादसे में दिवंगत हुए लोगों  के शोक संतप्त परिजनों के प्रति अपनी हार्दिक संवेदना भी व्यक्त की है.

यह भी पढ़े  आज पीएम मोदी चंपारण के लोगों को देंगे 'हमसफर एक्सप्रेस' की सौगात

मुख्यमंत्री ने मृतकों के परिजनों को 2-2 लाख रुपये तथा घायलों को 50-50 हजार रुपये की आर्थिक मदद प्रदान किये जाने की घोषणा की हैं. उन्होंने जिला प्रशासन को प्रकरण की एफआईआर दर्ज करने, हादसे के घायलों का समुचित उपचार कराने तथा छात्र दल के शेष सदस्यों के लिए वैकल्पिक व्यस्था सुनिश्चित कराने के भी निर्देश दिए हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here