अश्वारोही दल में मेरी शुरू से ही दिलचस्पी रही : नीतीश कुमार

0
96
Patna-Jan.7,2018-Bihar Chief Minister Nitish Kumar is honouring to winners during closing function of 36th All India Police Equestrian Championship and Mounted Police Duty Meet 2017 at BMP-5 in Patna.

राज्य सरकार पुलिस की सुविधाओं के लिए काम कर रही है। अश्वारोही दल में मुझे शुरू से दिलचस्पी रही है। जब मैं सांसद था, मेरा क्षेत्र टाल का इलाका है, इसमें अश्वारोही दल रहे, इसके लिए प्रयास किया। अश्वारोही बल की भूमिका कानून व्यवस्था, भीड़ नियंतण्रवगैरह कामों में है लेकिन आज के बदलते परिवेश में इसकी भूमिका सीमित हो गयी है। फिर भी इसको बनाए रखना है। बिहार में 101 अश्व हैं, नये और बेहतरीन अश्व भी खरीदे गये हैं, उनकी ट्रेनिंग भी करायी गयी है, उन्हें मेंटेन कर रखा गया है, इसके लिए संबंधित अधिकारियों को बधाई देता हूं। बिहार में पुलिस की एक्टीविटी बहुत ज्यादा है। डय़ूटी में व्यस्तता है। उनको प्रेरित करने के लिए हमने सुझाव दिया कि स्पोर्ट्स का आयोजन हो। अखिल भारतीय पुलिस कंट्रोल बोर्ड द्वारा बिहार में पांच-पांच आयोजन किया गया है। स्पोर्ट्स के आयोजन से लोगों का ध्यान केंद्रित होता है, पूरे व्यक्तित्व का विकास होता है। हम सरकार की तरफ से आास्त करते हैं कि इस तरह के आयोजन के लिए जितनी भी राशि की जरूरत होगी, उपलब्ध कराएंगे।यह बातें मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने 36वें अखिल भारतीय पुलिस अश्वारोही प्रतियोगिता एवं माउंटेड पुलिस डय़ूटी मीट-2017 के समापन समारोह में कही। उन्होंने कहा कि आज 36वें अखिल भारतीय पुलिस अश्वारोही प्रतियोगिता एवं माउंटेड पुलिस डय़ूटी मीट-2017 का समापन समारोह है, इस अवसर पर आप सब लोगों को तथा खासकर बिहार पुलिस को बेहतर आयोजन के लिए बधाई देता हूं। ऑल इंडिया पुलिस कंट्रोल बोर्ड द्वारा बिहार को जो भी प्रतियोगिता के आयोजन की जिम्मेवारी दी गयी है, सभी का बेहतर आयोजन किया गया है। आल इंडिया पुलिस स्पोर्ट्स कंट्रोल बोर्ड ने इस कार्यक्रम के लिए बिहार को इजाजत दी, जिसका शुभारंभ 29 दिसम्बर 2017 को महामहिम राज्यपाल सत्यपाल मलिक द्वारा किया गया। दस दिनों तक चली इस प्रतियोगिता में बिहार सहित अन्य राज्यों, केंद्र शासित प्रदेशों, पुलिस बलों की कुल 17 टीमें, 571 प्रतिभागी, 274 उत्तम नस्ल के घोड़ों ने हिस्सा लिया। कुल 31 तरह की विभिन्न स्पर्धाओं का आयोजन किया गया। भीषण ठंड के मौसम में सारे प्रतिभागियों ने बेहतरीन ढंग से इसमें भाग लिया, इसके लिए मैं सभी लोगों को और साथ-साथ इस तरह के आयोजन के लिए आयोजकों को भी बधाई देता हूं। मुख्यमंत्री ने कहा कि पुलिस की सुविधाओं के लिए भी अनेक काम किये जा रहे हैं। रहने के लिए बेहतरीन पुलिस लाइन बनाया जा रहा है, बेहतरीन थाना भवनों का निर्माण हुआ है। पटना में गांधी मैदान थाना में लिफ्ट लगा हुआ। अच्छे वाहन और हथियार मुहैया कराये गये हैं। तेजी से नियुक्तियां हो रही हैं, कोई दिक्कत न हो, हर तरह की सुविधा और सहायता उपलब्ध करायी जा रही है। बिहार पहला राज्य है, जहॉ महिलाओं को पुलिस नियुक्ति में 35 प्रतिशत आरक्षण दिया गया। जब बाहर निकलते हैं तो जिलों में गार्ड ऑफ ऑनर के लिए महिला पुलिस रहती हैं तो मुझे प्रसन्नता होती है। हर थाने में महिला पुलिस के लिए वाशरुम, टयलेट की व्यवस्था कर दी गई है। हर पहलू पर ध्यान दिया जा रहा है, हर क्षेत्र में गतिविधि के साथ निष्ठा के साथ काम करने की जरुरत है। साथ ही लोगों को प्रेरित करते रहने की जरुरत है। मुख्यमंत्री ने कहा कि बिहार पुलिस द्वारा इस तरह के पांच प्रतियोगिताओं/कार्यक्रमों में हिस्सा लेने का मौका मिला है, ये मेरे लिए प्रसन्नता की बात है। आपलोगों ने मुझे बुलाया, आप सब लोगों को बहुत-बहुत धन्यवाद। सभी विजेताओं को बधाई एवं शुभकामनाएं देता हूं।

Patna-Jan.7,2018-Bihar Chief Minister Nitish Kumar and others are releasing souvenir during closing function of 36th All India Police Equestrian Championship and Mounted Police Duty Meet 2017 at BMP-5 in Patna.

बिहार पशु चिकित्सा महाविद्यालय के खेल मैदान में 29 दिसम्बर 2017 से दस दिनों तक 36वें अखिल भारतीय पुलिस अश्वारोही प्रतियोगिता एवं माउंटेड पुलिस डय़ूटी मीट-2017 का आयोजन हुआ। मुख्यमंत्री द्वारा विजेताओं को पुरस्कार प्रदान किया गया। इस प्रतियोगिता में ओवर अल चैम्पियनशिप ट्राफी के विजेता सरदार वल्लभ भाई पटेल नेशनल अकादमी, हैदराबाद की टीम रही। रनर ऑफ ट्राफी बीएसएफ की टीम को दी गर्यी। बेस्ट राइडर का खिताब इंस्पेक्टर सुमेर सिंह को दिया गया। माउंटेड पुलिस श्रेणी में बीएसएफ चैम्पियन टीम रही। बिहार पुलिस के सब इंस्पेक्टर गुलहसन एवं बीएसएफ के सुमेर सिंह को संयुक्त रूप से गोल्ड मेडल दिया गया। बिहार की महिला पुलिस इंस्पेक्टर उमा सिंह को लेडिज हैक्स प्रतियोगिता का स्वर्ण पदक प्रदान किया गया। पहली बार इस प्रतियोगिता में मुख्यमंत्री बिहार के नाम से लेडिज हक्स ट्रॉफी की शुरुआत की गयी। बिहार को प्रतियोगिता में एक गोल्ड, दो सिल्वर, दो ब्रांज मेडल प्राप्त हुए हैं। कार्यक्रम के प्रारंभ में मार्च पास्ट किया गया। मुख्यमंत्री द्वारा एक स्मारिका का विमोचन किया गया। आयोजन समिति द्वारा मुख्यमंत्री को प्रतीक चिह्न भेंट किया गया। पुलिस महानिदेशक के अनुरोध पर मुख्यमंत्री ने समापन की घोषणा की। खेल के समापन के बाद झंडे को मुख्यमंत्री ने ऑल इंडिया पुलिस स्पोर्ट्स कंट्रोल बोर्ड को सौंप दिया। इस अवसर पर महाधिवक्ता ललित किशोर, पुलिस महानिदेशक पीके ठाकुर, प्रधान सचिव गृह आमिर सुबहानी, गृह रक्षा वाहिनी एवं अगिशमन के महानिदेशक पीएन राय, नागरिक सुरक्षा महानिदेशक रविंद्र कुमार, महानिदेशक सह प्रबंध निदेशक सह अध्यक्ष बिहार पुलिस हाउसिंग करपोरेशन सुनील कुमार सहित अन्य वरीय पुलिस अधिकारीगण एवं देश के विभिन्न हिस्सों से आये प्रतिभागीगण एवं गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

Patna-Jan.6,2018-Jawans are performing during 36th All India Police Equestrian Championship and Mounted Police Duty Meet 2017 at BMP-5 in Patna.
यह भी पढ़े  नीतीश कुमार बीजेपी में नहीं चले जाएं इसलिए उन्हें दही का टीका लगाता था : लालू यादव

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here