अयोध्या हमारी ‘आन, बान और शान’ का प्रतीक है :सीएम योगी

0
12

दिवाली के शुभ मौके पर रामलाल के द्वारा पहुंचे सीएम योगी आदित्यनाथ ने राम मंदिर को लेकर बड़ा बयान दिया है. योगी आदित्य़नाथ ने कहा कि सरकार अयोध्या मामले पर लोगों की भावनाओं का सम्मान करती है. उन्होंने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर था और रहेगा. योगी ने कहा कि अयोध्या आस्था का महत्वपूर्ण केन्द्र बिन्दू है. अयोध्या के बारे में सकारात्मक सोच, तरीके से देश दुनिया के सामने रख सकें, अच्छा संदेश गया है. सबके सहयोग से सभी कार्यक्रम अच्छे ढंग से संपूर्ण हो गय है.

केंद्र और राज्य सरकार ने बनाई योजना
योगी ने संवाददाताओं से बातचीत के दौरान कहा कि अयोध्या के लिए केन्द्र और राज्य सरकार ने बहुत सारी विकास योजनाएं बनाई हैं. इन योजनाओं को धरती पर उतारने के लिए सुबह से खुद सर्वे किया है. इसके लिए कार्य हो रहा है. कुछ वर्षों में अयोध्या दुनिया के बेहतरीन नगरों के तौर पर पेश होगी. आने वाले कुछ वर्षों में अयोध्या दुनिया की खे बेहतरीन नगरी के रूप में प्रस्तुत होगी.

यह भी पढ़े  उत्तर प्रदेश के तीसरे चरण में 94 लाख मतदाता 28135 प्रत्याशियों की किस्मत का फैसला करेंगे

राम की मूर्ति होगी स्थापित
योगी ने कहा कि अयोध्या में भगवान श्री राम की दर्शनीय मूर्ति स्थापित हो, इस पर हम चर्चा करेंगे. अयोध्या की पहचान भगवान श्री राम से हैं. पूज्यनीय मूर्ति मंदिर में होगी लेकिन दर्शनीय मूर्ति सरयू किनारे होगी. मूर्ति पर अंतिम चरण का काम चल रहा है.

हनुमानगढ़ी मंदिर में की पूजा-अर्चना
दीपों के त्योहार दिवाली पर एक बार फिर राम की नगरी अयोध्या सुर्खियों में है. मंगलवार को लाखों दीपों से सजे सरयू घाट पर दीपोत्सव मनाने के बाद बुधवार को दिवाली के दिन भी योगी अयोध्या में ही हैं. बुधवार को सुबह योगी आदित्यनाथ ने हनुमानगढ़ी में दर्शन किए. तय कार्यक्रम के अनुसार हनुमानगढ़ी मंदिर में पूजा करने के बाद योगी आदित्यनाथ साधु-संतों से मुलाकात करेंगे. संतों से मुलाकात के बाद योगी आदित्यनाथ अपने संसदीय क्षेत्र गोरखपुर के लिए रवाना हो जाएंगे.

इलाहाबाद का नाम बदल कर प्रयागराज करने के कुछ ही दिनों बाद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को घोषणा की कि फैजाबाद जिला अब से अयोध्या के नाम से जाना जाएगा। मुख्यमंत्री ने राज्य की राजधानी लखनऊ से तकरीबन 120 किलोमीटर दूर स्थित इस तीर्थनगरी में कहा, ‘‘अयोध्या हमारी ‘आन, बान और शान’ का प्रतीक है।’’ आदित्यनाथ ने कहा, ‘‘कोई अयोध्या के साथ अन्याय नहीं कर सकता है।’’ उन्होंने इसके साथ ही कहा कि अयोध्या की पहचान भगवान राम से है। आदित्यनाथ ने दीपावली के अवसर पर आयोजित ‘दीपोत्सव’ में ये बातें कहीं।

यह भी पढ़े  यूपी एमएलसी चुनाव: बीजेपी ने जारी की लिस्ट, वोटिंग की नौबत नहीं आएगी

उन्होंने अयोध्या में भगवान राम के नाम पर एक नया हवाई अड्डा और भगवान राम के पिता राजा दशरथ के नाम पर जिले में एक मेडिकल कॉलेज की स्थापना की भी घोषणा की। इस अवसर पर भीड़ में शामिल कुछ लोगों को ‘मंदिर का निर्माण कराओ’ के नारे लगाते सुना गया। आदित्यनाथ ने ‘कथा पार्क’ में आयोजित एक कार्यक्रम में कहा, ‘‘दीपोत्सव नई परंपरा शुरू करता है।’’

कथा पार्क में आयोजित कार्यक्रम में दक्षिण कोरिया कोरिया की प्रथम महिला किम जुंग-सुक भी शामिल हुईं। इस अवसर पर ‘राम की पैड़ी’ के पुन: विकास और सौंदर्यीकरण और सरयु नदी में मलजल प्रवाहित करने पर रोक लगाने समेत कई परियोजनाओं का शुभारंभ किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here