अमेरिका में बोले राहुल, ‘नोटबंदी से विकास दर गिरी, कश्मीर के लिए मोदी जिम्मेदार

0
47

कैलिफोर्निया: अमेरिका के बर्कले में यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया में आज कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने भाषण दिया. इस दौरान राहुल ने केंद्र सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर हमला बोला. राहुल ने कश्मीर में फैली अशांति और नोटबंदी से गिरी विकास दर के लिए नरेंद्र मोदी सरकार को जिम्मेदार ठहराया है.

कश्मीर को लेकर बीजेपी पर निशाना साधा

राहुल ने कश्मीर में अशांति को लेकर भी केंद्र सरकार पर निशाना साधा है. राहुल ने कहा, ‘’ नौ साल मैंने मनमोहन सिंह, चिंदबरम, जयराम नरेश के साथ मिलकर कश्मीर पर काम किया और 2013 में हमने मनमोहन को गले लगाकर कहा कि आप की सबसे बड़ी सफलता कश्मीर में आतंकवाद को कम करना है.’’ उन्होंने कहा, ‘’हमनें कश्मीर को लेकर कभी बड़े-बड़े भाषण नहीं दिए, हमनें वहां पर पंचायती राज पर काम किया और छोटे लेवल पर लोगों से बात की.’’

राहुल ने कहा, ”साल 2014 में कश्मीर में फिर सुरक्षाकर्मियों की जरूरत पड़ गई. कश्मीर में कई पार्टियां हैं. पीडीपी ने नए लोगों को राजनीति में लाने का काम किया, लेकिन बीजेपी के साथ गठबंधन के बाद ये चीज बंद हुई. अब युवा आतंकियों के पास जा रहे हैं. पीएम नरेंद्र मोदी ने आतंकियों को जगह दे दी और देखिए हिंसा बढ़ गई.”

नोटबंदी ने देश की अर्थव्यवस्था को गहरी चोट पहुंचाई-राहुल

राहुल ने नोटबंदी को लेकर भी पीएम मोदी पर निशाना साधा. उन्होंने कहा, ”नोटबंदी ने देश की अर्थव्यवस्था को गहरी चोट पहुंचाई है. इससे हमारी विकास दर दो फीसदी तक गिर गई है.” राहुल ने कहा, ”कांग्रेस, बीजेपी और आरएसएस की तरह नहीं है. मेरा काम लोगों का सुनना है और उसके बाद फैसला लेना है. मैं किसी और की तरह खड़ा होकर नहीं बोलता देखिए मैं ये कर दूंगा.”

राहुल ने बिना नाम लिए पीएम नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा. उन्होंने कहा, ”बीजेपी एक ऐसी मशीन है, जहां सिर्फ मेरे बारे में गलत चीजें फैलाई जाती हैं और यह ऑपरेशन एक सभ्य पुरुष (नरेंद्र मोदी) की तरफ से चलाया जाता है जो हमारे देश को चला रहा है.”

हिंसा से किसी का भला नहीं होगा-राहुल

राहुल ने भाषण की शुरुआत में पूर्व प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरु और इंदिरा गांधी का जिक्र किया. उन्होंने कहा, ”मेरी दादी की हत्या कर दी गई, लेकिन हिंसा से किसी का भला नहीं होगा.” राहुल ने कहा, ”किसी के खिलाफ हिंसा का इस्तेमाल करना और आक्रामक रुख से आगे बढ़ना खतरनाक होता है. भारत में अहिंसा के विचार को हमेशा आगे रखा जाता है.”

मैंने हिंसा के कारण अपने पिताजी- दादी को खो दिया- राहुल

राहुल ने आगे कहा, ”हिंसा के विचार ने ही भारत के लोगों को आगे बढ़ने में मदद की है. अहिंसा का विचार आज खतरे में है.” उन्होंने कहा, हिसा और गुस्सा हमें बर्बाद कर सकते हैं. मैंने अपने पिताजी (राजीव गांधी) और दादी (इंदिरा गांधी) को हिंसा के कारण खो दिया था. अगर मैं हिंसा को नहीं समझूंगा तो कौन समझेगा.” राहुल ने कहा, ”जब आप अपने लोगों को खो देते हो तो आपको गहरी चोट लगती है.”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here