अमेरिका पहुंचा कुलभूषण जाधव के परिवार के साथ बदसलूकी का मामला

0
8

सोमवार को वॉशिंगटन डीसी में स्थि‍त पाकिस्‍तान एम्‍बेसी के बाहर अमेरिका में रह रहे भारतीय और बलूच लोगों ने प्रदर्शन किया. कुलभूषण जाधव की मां और पत्‍नी के सा‍थ मुलाकात के दौरान पाकिस्‍तान ने जो रवैया अख्तियार किया गया था प्रदर्शनकारी उसका विरोध किया. प्रदर्शनकारियों ने पाकिस्‍तान ‘चप्‍पल चोर’ के बैनर लेकर प्रदर्शन किया.

इतना ही नहीं ये प्रदर्शनकारी पाकिस्‍तान को देने के लिए चप्‍पल लेकर भी आए. प्रदर्शनकारियों ने कहा कि उन्‍होंने कुलभूषण जाधव की पत्‍नी की चप्‍प तब चुराई जब वह संकट में थी. प्रदर्शनकारी ने कहा कि मुझे उम्‍मीद है कि ये इन चप्‍पलों का भी इस्‍तेमाल करेंगे. उन्‍होंने कहा कि पाकिस्‍तान का मतलब क्‍या है? अमेरिका से डॉलर ले, हिन्‍दुस्‍तान के जूते खा!

वाशिंगटन डीसी में प्रदर्शन करने वाले एक प्रदर्शनकारी ने कहा कि पाकिस्तान की संकीर्ण सोच का खुलासा कुलभूषण जाधव की मां और पत्‍नी के साथ किए गए व्‍यवहार से पता चलता है.

गौरतलब है कि पिछले साल 25 दिसंबर को पाकिस्‍तान की जेल में बंद कुलभूषण जाधव से मिलने के लिए उनकी मां और पत्‍नी इस्‍लामाबाद गए थे. इस मुलाकात के दौरान जाधव की पत्‍नी की चप्‍पल पाकिस्‍तान ने उतरवा ली थी. इतना ही नहीं इंटरकॉम पर बातचीत के दौरान भी पाकिस्‍तान ने कई बार उन्‍हें परेशान किया. इसके बाद पाकिस्तान ने कहा था कि उसे जाधव की पत्नी की जूतियां फॉरेंसिक जांच के लिये भेज दी है, ताकि उनमें पाई गई कथित संदिग्ध वस्तु की प्रकृति का निर्धारण किया जा सके. हालांकि बाद में उसमें कुछ नहीं निकला था.

यह भी पढ़े  आतंकी अजहर को बचाने में चीन बेनकाब

इस मामले में सुषमा ने सदन में दिए बयान में कहा था कि एयरपोर्ट पर सिक्योरिटी चेकिंग में कहीं कोई चिप नहीं दिखा लेकिन पाकिस्तान ने चिप से जासूसी के आरोप लगाए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here