अब कांग्रेस माने राहुल गांधी

0
302

 कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी निर्विरोध पार्टी अध्यक्ष चुन लिए गए। वह 16 दिसम्बर को पदभार संभालेंगे। पार्टी के चुनाव अधिकारी एम रामचंद्रन ने यहां पार्टी मुख्यालय में गांधी के निर्विरोध अध्यक्ष चुने जाने की औपचारिक घोषणा की। सोमवार को नामांकन पत्र वापस लेने की अंतिम तिथि थी। इस पद के लिए सिर्फ गांधी ने ही नामांकन पत्र भरा था। गांधी पिछले 19 वर्षों से अध्यक्ष पद संभाल रही अपनी मां सोनिया गांधी का स्थान लेंगे।आखिरी दिन भरे थे पच्रे : चुनाव प्रक्रिया एक दिसम्बर को शुरू हुई थी और गांधी ने नामांकन भरने के आखिरी दिन चार दिसम्बर को अपने पच्रे भरे थे। उनकी ओर से नामांकन पत्रों के 89 सेट दाखिल किए गए थे। सभी जांच में सही पाए गए थे। उनके प्रस्तावकों की संख्या 890 थी।नामांकन के समय मौजूद थे पार्टी के बड़े नेता : राहुल गांधी के नामांकन पत्र भरने के समय पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, राज्यसभा में पार्टी के उपनेता आनंद शर्मा, पूर्व केंद्रीय मंत्री सुशील कुमार ¨शदे, कर्नाटक के मुख्यमंत्री एस सिद्धारमैया तथा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया भी उपस्थित थे। इस मौके पर पार्टी कोषाध्यक्ष मोतीलाल बोरा,महासचिव अशोक गहलोत समेत कई राज्यों के मौजूदा एवं पूर्व मुख्यमंत्री मौजूद थे।मनमोहन, प्रणब मुखर्जी से लिया था आशीर्वाद : नामांकन पत्र भरने से पहले गांधी सबसे पहले सिंह और उसके बाद पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी से आशीर्वाद लेने गए। मुखर्जी ने गांधी को पारंपरिक तरीके से टीका लगाकर और सिर पर फूल रखकर आशीर्वाद दिया। गांधी ने अपनी मां एवं पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी का भी आशीर्वाद लिया था। पद सभांलने वाले गांधी-नेहरू परिवार के छठे सदस्य होंगे : वह यह पद संभालने वाले नेहरू -गांधी खानदान के छठे सदस्य होंगे। इससे पहले मोतीलाल नेहरू, जवाहर लाल नेहरू, इंदिरा गांधी तथा राजीव गांधी देश देश की सबसे पुरानी पार्टी के अध्यक्ष रह चुके हैं।

यह भी पढ़े  रमजान के पवित्र महीने में दुआ है कि समाज में शांति, सद्भाव और प्रेम का माहौल बना रहे:सीएम

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here