अगर मुझे भारत को सौंपा गया तो आत्महत्या कर लूंगा:नीरव मोदी

0
31

लंदन: पंजाब नेशनल बैंक (PNB) से जुड़े 13,500 करोड़ रुपये के धोखाधड़ी मामले में भारत में वांछित भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी की जमानत याचिका एक बार फिर यूके (यूनाइटेड किंगडम) की अदालत ने खारिज कर दी है. जमानत न मिलने पर नीरव ने कोर्ट में आपा खो दिया और धमकी दी कि अगर उसे भारत को प्रत्यर्पित किया गया, तो वह आत्महत्या कर लेगा. इस दौरान उसने बताया कि उसे जेल में दो बार पीटा भी गया.

48 वर्षीय कारोबारी नीरव को वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट कोर्ट में चीफ मजिस्ट्रेट एम्मा अर्बुथनॉट के सामने पेश किया गया. उसके वकील हुगो कीथ ने कहा कि नीरव को वेंड्सवर्थ जेल में दो बार पीटा गया. उन्होंने कहा कि नीरव की एक बार अप्रैल में और दूसरी बार बीते मंगलवार को पिटाई हुई. दावा किया गया कि जेल के जिम्मेदार अधिकारियों ने इस मामले में कोई कदम नहीं उठाया.

नहीं मिली जमानत
नीरव मोदी ने पांचवीं बार जमानत के लिए आवेदन किया था और सुनवाई के दौरान उसने अदालत को गुमराह करने की भी कोशिश की. हालांकि, इन सबके बावजूद कोर्ट ने उसे जमानत देने से इनकार कर दिया.

यह भी पढ़े  राजनीतिक संकट के बीच ब्रिटेन के विदेश मंत्री ने दिया अपने पद से इस्तीफा

नीरव मोदी ने लंदन कोर्ट में दायर की जमानत याचिका, कहा- ‘मैं डिप्रेशन का शिकार हूं’
नीरव का दावा है कि वह बेचैनी और अवसाद से पीड़ित है. नीरव मोदी ने अपनी निरंतर हिरासत के खिलाफ लंदन की एक अदालत में जमानत याचिका दायर करते हुए घर में ही हिरासत में रखने की अपील की. बता दें कि नीरव को 19 मार्च को होलबोर्न से गिरफ्तार किया गया था.

13,500 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी
पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) ने आरोप लगाया था कि नीरव मोदी और उसके चाचा मेहुल चोकसी ने कुछ बैंक कर्मचारियों की संलिप्तता के साथ 13,500 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी की है. इसके बाद प्रवर्तन निदेशालय ED) और केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) द्वारा इस मामले की जांच की जा रही है.

नीरव मोदी पर भगोड़े आर्थिक अपराधी अधिनियम (एफईओ) के तहत भी आरोप लगे हैं. ईडी ने चोकसी के खिलाफ मुंबई में धन शोधन निवारण अधिनियम अदालत में आरोपपत्र दायर किया है.

यह भी पढ़े  पी चिदंबरम के बाद उनके बेटे कार्ति पर भी लटकी गिरफ्तारी की तलवार!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here